हाथकरघा एवं हस्तशिल्प संचालनालय

मध्यप्रदेश शासन

सौंसर

क्लस्टर के साड़ी एवं ड्रेस मटेरियल का संक्षिप्त विवरण

सौंसर जिला छिन्दवाड़ा एक हाथकरघा बाहुल्य क्लस्टर है। सौंसर के अतिरिक्त लाधीखेड़ा, मोहगांव क्षेत्र में बुनकरों द्वारा हाथकरघा वस्त्र उत्पादन का कार्य किया जाता है। प्रमुख रूप से साड़ी के उत्पादन हेतु सौंसर क्षेत्र प्रसिद्ध है। सौंसर में नागपुर (महाराष्ट्र) की बाजार मांग अनुसार साड़ियों का उत्पादन स्थानीय बुनकरों द्वारा किया जाता था।

  1. सौंसर क्लस्टर में सिल्क कॉटन, सिल्क X सिल्क की साड़ियां एवं ड्रेस मटेरियल का उत्पादन किया जाता है। जिसमें 20/22 डेनियर धागा, 2/120 काटन एस,80 एस,60 एस, 2/60 एस एवं 2/80 एस कॉटन एवं जरी धागों का उपयोग करते हुए उत्पादन किया जा रहा है।
  2. सौंसर क्षेत्र में मंगलगिरी पैटर्न आधारित ड्रेस मटेरियल का उत्पादन होता है। जिसकी मांग बाजार में बनी हुई है तथा ग्राहकों में भी इसके रंग संयोजन के कारण इन वस्त्रों पंसद किया जाता है।
  3. वर्तमान में सौंसर जिला छिन्दवाड़ा में लगभग 2653 करघे स्थापित है। जिनके माध्यम से लगभग 5529 बुनकरो को रोजगार में संलग्न कराया गया है। अनुमानित वार्षिक उत्पादन लगभग 3.44 करोड़ रूपये का है।
img
img
img
img